Kisi bhi samsya ka samadhan kaise kare

Kisi bhi samsya ka samadhan kaise kare

Kisi bhi samsya ka samadhan kaise kare। How to solve any problem। किसी भी समस्या का समाधान कैसे करे

Kisi bhi samsya ka samadhan kaise kare ? जब व्यक्ती को जीवन में कोई भी समस्या आती है, कोई भी संकट आता है तब व्यक्ति सोच में पड़ जाता है। कई बार ऐसा भी होता है कि, जब कोई समस्या आती है तब कई सारे व्यक्ति गभरा जाते है। कई बार व्यक्ति को ये समझ नहीं आता है कि, samsya ka samadhan kaise kare। यदि समस्या बड़ी होती है तो, कई सारे व्यक्ति मानसिक तनाव में भी आ जाते हैं।

samsya ka samadhan kaise kare
samsya ka samadhan kaise kare

समस्या क्या है। Samasya kya hai। samsya ka samadhan kaise kare

समस्या यह होती है कि , जब भी कोई समस्या आती है तब अधिकतर व्यक्ति सिर्फ उस समस्या को देखते ही रह जाते हैं। कई सारे लोग समस्या को फेस नहीं कर पाते हैं। लेकिन दूसरी और कुछ लोग ऐसे भी हैं जो हर एक समस्या का विकट से विकट स्थिति में रहकर भी उसका हल निकाल लेते हैं।

samsya samadhan vidhi kya he
samsya samadhan vidhi kya he

समस्या समाधान विधि क्या है। समस्या समाधान क्या है। Samsya ka samadhan kaise kare


जिंदगी में आने वाली समस्या चाहें कितनी भी बड़ी क्यों ना हो, कितनी भी विकट क्यों ना हो, हर एक समस्या का समाधान ज़रुर होता है। दुनियां में कोई भी समस्या ऐसी नहीं है, जिसका समाधान ना हो। प्रकृति ने हर एक चीज, और हर एक पहलू को दो भागों में बांटा है। क्या कोई भी सिक्के कि एक साइड होती है ??? नहीं ना, ठीक वैसे ही, हर एक समस्या का समाधान भी जरुर होता है। किसी भी समस्या का समाधान करने के लिए हमें मुख्य पांच 5 पहलू को ध्यान में रखना होता है।


1.समस्या का मूल कारण जानना

2.वर्तमान परिस्थिति के अनुसार उसके विभिन्न उपायों को समझना

3.कुछ अनुभवी और हितेच्छु लोगों कि सलाह लेना

4.किसी भी समस्या को अनिर्णय से ना खींचना

5.समय पर निर्णय लेकर, वो गलती दुबारा ना करना

How to solve any problem। हर समस्या का समाधान कैसे करे। Har samsya ka samadhan kaise kare

जब भी किसी भी व्यक्ति के जीवन में कोई समस्या आती है , तब कई सारे व्यक्ति टेंशन में आ जाते हैं। लेकिन टेंशन लेने से, यां फिर गुस्सा करने से , यां फिर फालतू बहस करने से कोई फायदा नहीं होता। समस्या को सुलझाने के लिए चहिए, सच्ची निष्ठा, मजबूत मनोबल और निर्णय लेने की शक्ति।

Har samsya ka samadhan
Har samsya ka samadhan

जीवन की समस्या का समाधान क्या है। Jivan ki samsya ka samadhan kaise kare What is the solution of life’s problem

कई सारे व्यक्ति जब कोई समस्या आती है तब वो समस्या से डर कर उससे दूर भागते रहते है। लेकिन ऐसा करने से समस्या और ज्यादा उलझ जाती है। समस्या आने के बाद उससे डरने से कोई फायदा नहीं होता। जरूरत है उसे मजबूत मन से फेस करना और बुद्धि पूर्वक उसे सुलझा देना।

समस्या का मूल कारण जानना। Find the root cause of problem

जब भी कोई समस्या यां फिर कोई संकट आता है। तब व्यक्ति को ठंडे दिमाग से सोचना चाहिए कि आखिरकार ये समस्या यानी प्रॉब्लम कहा से आई है। मैंने एसी कौनसी गलती कि है जिस कारण ये समस्या उत्पन्न हुई है। यां फिर इस समस्या के लिए कौन जवाबदार है, क्या मै अकेला जवाबदार हूं यां फिर अन्य कोई भी इसमें शामिल हैं। किसी भी समस्या को सुलझाने का पहला प्वाइंट है, अपनी गलतियों को स्वीकार करना। समस्या का कारण पता चल जाने के बाद उसे सुलझाने में बडी आसानी होती है।

वर्तमान परिस्थिति को ध्यान में रखकर, उसके विभिन्न उपायों पर विचार करना :

कई बार जब व्यक्ति के जीवन में कोई समस्या, कोई प्रॉब्लम आती है तो व्यक्ति टेंशन में आ जाते हैं कि samsya ka samadhan kaise kare। कई सारे व्यक्ति प्रॉब्लम को फेस नहीं कर पाते हैं। कई सारे लोग प्रॉब्लम को इग्नोर करके उससे पीछा छुड़ाना चाहते हैं। लेकीन ऐसा करने से समस्या और भी ज्यादा विकट होती चली जाती है। जब भी कोई समस्या आए तो वर्तमान परिस्थिति को ध्यान में रखकर उसके विभिन्न प्रकार के उपायों के बारे में सोचना चाहिए। ऐसा करने से आपको समस्या को सुलझाने में और ज्यादा सफलता प्राप्त हो सकती है।

यह आर्टिकल भी जरुर पढ़े।

chankya niti ki bate: किन लोगों से दूर रहना चाहिए

Mansik durbalta ke lakshan kya hai

sapne me peshab dekhna kaisa hota hai

chankya niti in hindi : ये चार चीजें जिसके घर में हो उसका विनाश निकट है ?

How to solve any problem
How to solve any problem

कुछ अनुभवी और समझदार और हितेच्छू लोगों कि सलाह लेना। Discuss the problem with some talented and experienced and our well-wishers persons

कोई भी समस्या आती है तब कई बार व्यक्ति सिर्फ अकेले उस समस्या के हल निकालने के बारे में सोचता रहता है। और जब ज्यादा कोशिश करने के बावजूद भी उसका कोई हल नहीं निकलता तब व्यक्ति ज्यादा परेशान हो जाता है। लेकीन kisi bhi samsya ka samadhan kaise kare ? उस बारे में खुद अकेले ढूंढते रहने से अच्छा है कि, वो समस्या कुछ अपने हितेच्छु और अनुभवी तथा समजदार लोगों को इस बारे में बताएं। हो सकता है कि उसके पास इसका कोई हल निकल जाए।, यां फिर वो लोग उसका हल निकालने का कोई अच्छा सा आइडिया भी दे दे।

यह आर्टिकल भी आपको एकबार पढ़कर ज़रुर देखना चाहिए

sapne me periods dekhna kaisa hota hai

Narak ke kitne dwar। नरक के कितने द्वार है

sapne me periods dekhna kaisa hota hai

किसी भी समस्या को अनिर्णय से ना खींचना। Do not draw any problem undefinately

दुनिया में कई सारे व्यक्ति ऐसे भी होते हैं, जो जब कभी कोई समस्या आती है तब वो लोग उसे इग्नोर करते रहते है। उन्हे लगता है कि समस्या को इग्नोर करके रखने से वो समस्या समाप्त हो जाएगी। लेकीन ऐसा कुछ होता नहीं है, ये बस सिर्फ उनका भ्रम है। किसी भी समस्या को हम जितना ज्यादा अनिर्णय से खींचते है , वो समस्या उतनी ही ज्यादा विकट होती चली जाती है। आचार्य चाणक्य ने चाणक्य नीति के अंदर चन्द्रगुप्त को बताया है कि, प्रकृति का एक सरल सा नियम है। यां तो तुम, समस्या को बहुत बड़ा होने से पहले ही काट दो यानी कि सुलझा लो यां फिर समस्या तुम्हे खा जायेगी। इसलिए किसी भी समस्या को ज्यादा अनिर्णय से नहीं खींचना चाहिए।

समय पर निर्णय लेना और उस ग़लती को ना दोहराना। Take the disision on the time and don’t repaeat it again

समस्या चाहें कोई भी क्यों ना हो, उसके लिए समय पर निर्णय लेना चाहिए। कई बार जब लोग किसी प्रॉब्लम में फंसते हैं, तब वो सिर्फ प्रॉब्लम को यानी समस्या को देखते ही रह जाते हैं। कुछ लोग समय पर निर्णय नहीं ले पाते। आचार्य चाणक्य ने चाणक्य नीति के अंदर बताया है कि, कोई भी समस्या चाहे कितनी भी बड़ी क्यों ना लगे, निर्णय लेने मे साहस करो। कोई भी disicion ज़रुर लो। आचार्य चाणक्य कहते हैं कि किसी भी समस्या का निर्णय समय पर ही ले लेना चाहिए, क्योंकि समय बित जाने के बाद लिए हुए सच्चे निर्णय कि भी कोई किम्मत नहीं रहती।
मुझे आशा है कि यदि आपके जीवन में भी कोई परेशानी आयेगी तो आप, लोग भी उस samsya ka samadhan kaise kare उस बात को अच्छी तरह से समझ गए है। और आप अब कोई भी समस्या सुलझा लेंगे।
धन्यवाद्

One thought on “Kisi bhi samsya ka samadhan kaise kare

Comments are closed.

error

Enjoy this blog? Please spread the word :)

RSS
Follow by Email
LinkedIn
Share
Instagram
Telegram
WeChat
WhatsApp