chankya niti in hindi : ये चार चीजें जिसके घर में हो उसका विनाश निकट है ?

chankya niti in hindi : ये चार चीजें जिसके घर में हो उसका विनाश निकट है ?

     चाणक्य नीति। chankya niti in hindi

      chankya Niti in hindi : आचार्य चाणक्य प्राचीन भारत के महानतम गुरुओं में से एक है।  आचार्य चाणक्य ने ही सम्राट चन्द्रगुप्त को शिक्षा देकर इतना काबिल बनाया था। कि उसने धनानंद जैसे ताकतवर राजा को हरा दिया था। आचार्य चाणक्य ने chankya niti in hindi में जो नीतियां बताई है वो आजके समय में भी काफी उपयोगी साबित हुई है।

    आचार्य चाणक्य ने chankya niti in hindi के अंदर काफी सारे विषयों के बारे में बताया है। जैसे कि राजनीति, युद्ध नीति, शत्रु नीति, व्यावहारिक जीवन और उनके बताए गए सिद्धांत आज भी बहोत ही उपयोगी है।

       आज हम यहां पर बात करने जा रहे हैं chankya niti in hindi में बताई गई ऐसी चार चीजों के बारे में। जो यदि किसी के घर में है तो उसका विनाश निकट है। तो इस विषय में पूरी जानकारी हासिल करने के लिए आर्टिकल को पूरा एंड तक जरूर पढ़ें।

chankya niti in hindi
chankya niti in hindi

    chankya niti in hindi : चाणक्य नीति इन हिन्दी

1. दुष्ट स्त्री यां पुरुष:


   आचार्य चाणक्य के अनुसार यदि किसी घर में कोई दुष्ट स्त्री यां पुरुष रहता हो। जिसका कई सारे गेर मर्दों यां औरतों के साथ नाजायज संबंध हो। जिसे अपने पति यां पत्नी के अलावा दूसरे मर्दों यां औरतों के साथ बहुत ही ज्यादा आकर्षण हो। तो उस घर का विनाश निकट होता है। अधिक काम वासना लोगो के दिमाग को खराब कर देती हैं। हम कई बार टीवी पर  में भी देखते हैं कि लोग कामवासना में अंधे होकर कई गुनाहों को अंजाम दे देते हैं। और बाद में उन्हें पस्ताना पड़ता है। अधिक कामवासना नरक का द्वार है।

यह आर्टिकल भी जरुर पढ़े।

Narak ke kitne dwar। नरक के कितने द्वार है

sapne me periods dekhna kaisa hota hai

sapne me dulhan dekhna kaisa hota hai ?

sapne me bike chalana kaisa hota hai

2.छल कपट करने वाला मित्र :


      आचार्य चाणक्य कहते है कि घर में छल कपट करने वाला मित्र रहता हो। यां फिर उसका घर में आना जाना हो यां फिर आपका ऐसे कोई मित्र के साथ उठना बैठना हो। तो उस घर का विनाश भी निकट होता है। आमतौर पर मित्र को भाई के समान ही माना जाता है। पर यदि मित्र छल कपट करने वाला हो , पीठ पीछे वार करने वाला हो उससे दूर रहने में ही भलाई है। ऐसा मित्र कब अपनी गंदी नजर किस पर डाले ये कोई नहीं बता सकता। उसकी नजर आपके घर , प्रोपर्टी, जमीन जायदाद यां फिर आपके घर की औरतों पर भी हो सकती है।

chankya niti
chankya niti

यह आर्टिकल भी आपको एकबार पढ़कर देखना चाहिए।

Sapne mein phal dekhna kaisa hota hai

Sapne mein phal dekhna kaisa hota hai

Sapne me ladki dekhna kya hota he

3. बात न मानने वाला नौकर :

    आमतौर पर नौकर को एक फैमिली मेंबर की तरह ही देखा जाता है।  पर आचार्य चाणक्य कहते हैं कि यदि आपका कोई नौकर बात न मानने वाला हो। गलती करने पर भी तीखा जवाब देने वाला हो तो उस घर का विनाश भी निकट होता है। नौकर घर के कई सारे राज जानता होता है। ऐसे में आपकी बात न मानने वाला, आपसे बदतमीजी करने वाला, और मनमानी करने वाला नौकर आपके घर के राज दूसरों को भी बता सकता है। और ऐसे बदतमीज नौकर को घर में रखकर फायदा भी क्या है ?

4.जिस घर में सांप रहता हो :


    दुनिया में ऐसे लोगो की कमी नहीं जिसको हैरतअंगेज कर देने वाले शौक़ होते हैं। वो कहते हैं ना कि शौक़ बड़ी चीज है। लोगों को तरह के शौक होते हैं, कोई कुत्ता, बिल्ली, पालता हैं तो कोई मछली पालता हैं तो कोई लॉग सांप भी पालते हैं। तो आचार्य चाणक्य कहते हैं कि जिस घर में सांप रहता हो उस घर का विनाश निकट होता है। क्योंकि सांप कब किसको काट ले ये कोई नहीं बता सकता है।

chankya niti in hindi : में आचार्य चाणक्य ने कई सारी जीवन में उपयोगी साबित होने वाली नीतियां बताई है। आचार्य चाणक्य ने उस वक्त जो बातें लिखी है, समझाई है वो आज के युग में भी बहुत ही ज्यादा उपयोगी साबित हुई है।

यदि अपको ये लेख अच्छा लगे तो नीचे कॉमेंट करके जरुर बताइए। और यदि आप लोगों के मन में चाणक्य नीति को लेकर कोई सवाल है तो उसे भी कॉमेंट कर के जरूर बताइए।
धन्यवाद् 

2 thoughts on “chankya niti in hindi : ये चार चीजें जिसके घर में हो उसका विनाश निकट है ?

Comments are closed.

error

Enjoy this blog? Please spread the word :)

RSS
Follow by Email
LinkedIn
Share
Instagram
Telegram
WeChat
WhatsApp